Latest Technology News Patrika News

सावधान! SBI ग्राहक इस मैसेज को तुरंत करें डिलीट वरना खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट

SBI SMS Alert: लोगों को ठगने के लिए साइबर क्रिमिनल अक्सर नए-नए तरीकों को अंजाम देते हैं। इन सब तरीकों में से SMS के जरिये लोगों को धोखा देकर ठगने की कोशिश करते रहते हैं, और यह अभी भी जारी है। इस बीच केंद्र सरकार (Central Government) के एक सेंट्रल ऑर्गेनाइजेशन प्रेस इंफोर्मेंशन ब्यरो (PIB) ने भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के ग्राहकों के लिए अलर्ट जारी किया है।

 

PIB, SBI ग्राहकों को मैसेज उन से अलर्ट रहने को कह रहा है, जो उन्हें सूचित करते हैं कि उनका अकाउंट ब्लॉक कर दिया गया है। एजेंसी SBI यूजर्स को इस तरह के मैसेज या कॉल का जवाब न देने की चेतावनी दे रही है। ग्राहकों से यह भी अनुरोध है कि मैसेज के साथ आने वाले किसी भी लिंक पर क्लिक न करें। ग्राहक अपने अकाउंट्स तक पहुंचने के लिए व्यक्तिगत और बैंकिंग जानकारी मांगने वाले नकली SMS Alert का जवाब न दें यूजर्स को चेतावनी देने के लिए सरकारी एजेंसी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल का सहारा लिया। सरकर ने बताया कि यह मैसेज झूठा है और SBI कस्टमर को किसी भी सूरत में अपनी बैंकिंग डिटेल साझा नहीं करनी चाहिए।

PIB के फैक्ट चेक पेज @PIBFactCheck ने ट्विटर पर जानकारी दी कि SBI कस्टमर्स को ऐसे SMS भेजे जा रहे हैं, जो इनके अकाउंट के ब्लॉक होने की बात कह रहे हैं। PIB Fact Check ने बताया कि SBI कभी इस तरह के मैसेज नहीं भेजती है। ट्वीट में SBI कस्टमर्स को सेफ्टी टिप्स भी दी गई हैं।अपने व्यक्तिगत या बैंकिंग विवरण साझा करने के लिए कहने वाले ईमेल/SMS का जवाब ना दें अगर उन्हें ऐसा कोई संदेश प्राप्त होता है, तो वे तुरंत रिपोर्ट । फ़िशिंग @sbi.co.in पर रिपोर्ट करें और बैंक तत्काल कार्रवाई करेगा।

pbi.jpg
IMAGE CREDIT: PBI

PIB के मुताबिक स्कैमर्स, नकली SBI मैसेज के जरिये ग्राहकों को अपने पर्सनल "डाटा" जमा करने के लिए कहते हैं क्योंकि खाता "ब्लॉक" हो गया है। मैसेज के जरिए स्कैमर्स यूजर्स को मैसेज के साथ भेजे गए लिंक पर क्लिक करने के लिए कहते हैं ताकि उनका अकाउंट फिर से एक्टिवेट हो सके। अगर आपको इस तरह का कोई मैसेज मिलता है तो इसके बारे में तुरंत इस ईमेल ऐड्रेस पर रिपोर्ट करें report.phishing@sbi.co.in

ट्वीट में PIB Fact Check ने स्कैम SMS का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है। इस मैसेज में कस्टमर को बताया जा रहा है कि इनका SBI बैंक अकाउंट ब्लॉक हो गया है। PBI के अनुसार यह पूरा प्रक्रम फर्जी है। यह एक तरह का फिशिंग अटैक होता है, जहां एक यूजर से उसकी खास जानकारी लेकर उसे आर्थिक नुकसान पहुंचाने की कोशिश की जाती है। इसलिए आपको ऐसे मैसेज से सतर्क रहना चाहिए।

 

 

PM मोदी ने लॉन्च किया 5G Test Bed, देश में बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

5G Testbed Launch: भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) के रजत जयंती समारोह में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत में 5G टेस्टबैंड को लॉन्च कर दिया गया है। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यह सुखद सहयोग है कि भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) ने 25 वर्ष पूरे किए हैं देश आजादी के अमृत काल में अगले 25 वर्ष के रोड मैप पर काम कर रहा है। उम्होने कहा कि मुझे देश को खुद से निर्मित 5G-टेस्टबैंड राष्ट्र को समर्पित करने का अवसर मिला है।

इस नए 5G टेस्टबैंड की शुरुआत के बाद उन कंपनियों को बड़ा फायदा होने वाला है, जो विदेशी कंपनियों पर 5G टेस्ट के लिए निर्भर हुआ करती थी। यानी कि, अब तक भारत में मौजूद कंपनियां अपनी 5G सेवाओं को टेस्ट करने के लिए विदेशी कंपनियों का सहारा लेते थी, लेकिन अब भारत में 5G टेस्टबैंड लॉन्च होने के बाद कंपनियों को भारत में ही टेस्टिंग की सुविधा होगी।

 

पीएम मोदी ने इस लॉन्च के दौरान कहा कि, नई 5G तकनीक देश को आत्मनिर्भर बनाने में काफी बड़ी भूमिका निभाएगी। इतना ही नहीं पीएम मोदी ने शोधकर्ता, युवा प्लेयर्स और कंपनियों को 5G टेक्नोलॉजी की टेस्टिंग के लिए भी आमंत्रित किया है। उन्होंने यह भी कहा कि 5G टेस्टबैंड के जरिये देश में मौजूदा तकनीकी संस्थान और कई कंपनियां 5G टेस्टिंग कर सकती हैं।

आपको बता दें कि नए 5G टेस्टबेड को IIT मद्रास की देखरेख में भारत के 8 बड़ी संस्थानों ने मिल कर बनाया है। इस बड़े प्रोजेक्ट में IIT दिल्ली, IIT कानपुर, IIT हैदराबाद, IISc बैंग्लुरू, IIT बॉम्बे, सोसाइटी फॉर एप्लाइड माइक्रोवेव इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग एंड रिसर्च (SAMEER) और सेंटर ऑफ एक्सिलेंस इन वायरलेस टेक्नोलॉजी (CEWiT), जैसे देश के प्रमुख संस्थानों ने योगदान दिया है। 5G केवल मनोरंजन ही नहीं, रोजगार और विकास की रफ्तार को बढ़ाने में भी सक्षम है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि, 5G सेवाएं जल्द से जल्द शुरू होंगी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ऐसा अनुमान है कि आने वाले 15 सालों में 5जी से भारतीय अर्थव्यवस्था को 450 मिलियन डॉलर का फ़ायदा होने वाला है।

6G पर भी चल रहा हैं काम

प्रधानमंत्री मोदी ने 5G के टेस्टबैंड लॉन्च के दौरान 6जी सेवा से जुड़े मुद्दे पर भी बात की, उन्होंने कहा कि, हमने 6जी सेवाओं के लिए टास्क फोर्स तैयार किया है, जो इस पर निरंतर काम कर रहा है। आने वाले समय में वह दिन दूर नहीं जब यह सुविधा भी सभी को मिलेगी।

JioPhone Next को पहली बार 4499 रुपये में खरीदने का मौका! ऐसे मिलेगा ऑफर का फायदा

 

JioPhone नेक्स्ट जोकि एक एंट्री-लेवल स्मार्टफोन के रूप में भारत में लॉन्च किया गया था और यह देश का सबसे सस्ता स्मार्टफोन भी है। लेकिन अब यह डिवाइस और भी सस्ता हो गया है। इस फोन को कंपनी ने आधिकारिक तौर पर नवंबर 2021 में एंट्री-लेवल स्मार्टफोन के रूप में लॉन्च किया गया था। लेकिन इस फोन को Reliance Jio ने इस पर एक दिलचस्प डील की घोषणा की है। ऑफर के मुताबिक, जियोफोन नेक्स्ट को 2,000 रुपये के बड़े डिस्काउंट पर खरीदा जा सकता है। आइये जानते हैं कैसे आप इस ऑफर का लाभ उठा सकते हैं।

 

2,000 रुपये की छूट


JioPhone Next की ओरिजिनल कीमत 6,499 रुपये है, जोकि इस फोन की खासियत भी है, अब इस कीमत में आपको बहुत ही कम ऑप्शन मिलते हैं जो Jio के इस फोन को टक्कर देते हैं। अब इस फोन पर 2,000 रुपये की छूट देने का फैसला किया है। लेकिन, एक शर्त है। यह छूट केवल पुराने डिवाइस को एक्सचेंज करने पर ही दी जाएगी। यह एक्सचेंज ऑफर किसी भी चालू 4G स्मार्टफोन पर ही लागू है। अगर आप इस फ़ोन को खरीदने का मन बना रहे हैं तो आज ही रिलायंस जियो की वेबसाइट पर जायें या स्टोर से संपर्क करें। यह भी पढ़ें: Airtel BSNL Jio और Vi के ये हैं खास प्लान, एक बार करें रिचार्ज और सालभर की टेंशन खत्म

 

JioPhone Next के फीचर्स


फीचर्स की बात करें तो फोन में 5.45 इंच की एचडी प्लस डिस्प्ले है, जिस पर गोरिल्ला ग्लास 3 का प्रोटेक्शन है। फोन में क्वॉलकॉम का क्वॉडकोर QM 215 प्रोसेसर है। इसके अलावा फोन में 2 जीबी रैम के साथ 32 जीबी की स्टोरेज है जिसे मेमोरी कार्ड की मदद 512 जीबी तक बढ़ाया जा सकेगा।फोन में 13 मेगापिक्सल का रियर कैमरा और 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। फोन में डुअल सिम सपोर्ट है जिसमें एक नैनो सिम लगेगा। इसमें 3500mAh की बैटरी भी है। कनेक्टिविटी के लिए वाई-फाई, ब्लूटूथ जैसे विकल्प हैं। हॉटस्पॉट की सुविधा भी दी गई है।

 

World Password Day 2022: हैकर्स के भी नाक में हो जाए दम! जानिए कैसे बनाएं सबसे सुरक्षित पासवर्ड

World Password Day 2022: हर साल मई के पहले गुरुवार को विश्व पासवर्ड दिवस (World Password Day) के रूप में मनाया जाता है। आज यानि 5 मई को इसे मनाया जा रहा है। लोगों में उनके पासवर्ड के प्रति जागरुकता फैलाना ही इसका मकसद है। अब लोगो की लाइफ डिजिटल हो चुकी है, सुरक्षा के लिए पासवर्ड की जरूरत होती है, ये पासवर्ड हमारी डिजिटल दुनिया के गार्ड होते हैं, जोकि हमारे स्मार्टफोन, बैंक अकाउंट, डेबिट/क्रेडिट कार्ड और सोशल एकाउंट्स के इस्तेमाल में सेफ्टी देते हैं और हमारी पर्सनल जानकारियों को ओपन डिजिटल वर्ल्ड में चोरी होने से बचाते हैं। लेकिन कई बार कमजोर पासवर्ड काफी बड़ा नुकसान पहुंचा देता है, इसलिए कहा जाता की पासवर्ड स्ट्रोंग ही बनाना चाहिए।

लेकिन आज भी इसके प्रति लोग जागरूक नहीं हो सकें है। पासवर्ड मैनेजमेंट वेबसाइट LastPass की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनियाभर में हर दिन 50 लाख पासवर्ड चोरी होते हैं। आपको बता दें कि पिछले दिनों साइबर सिक्योरिटी रिसर्च फर्म NordPass ने 200 कॉमन पासवर्ड की लिस्ट जारी की थी। सिक्योरिटी फर्म द्वारा जारी किए गए लिस्ट में कई पासवर्ड ऐसे हैं, जिन्हें करोड़ों यूजर्स इस्तेमाल करते हैं।

पासवर्ड बनाते समय इन जरूरी बातों का रखें ध्यान

स्ट्रोंग पासवर्ड बनाते समय अपने पासवर्ड में अल्फा न्यूमेरिक डिजिट्स के साथ-साथ कैरेक्टर्स का भी इस्तेमाल जरूर करें। इसके अलावा आपका पासवर्ड 8 अंकों का कम से कम होना चाइये। ध्यान रहे पासवर्ड में मोबाइल नंबर, जन्मतिथि आदि का इस्तेमाल बिलकुल भी न करें। अगर किसी और को आपकी पर्सनल जानकारी हो तो ऐसी जानकारी पासवर्ड में शामिल न करें, यह आपे लिए खतरनाक साबित हो सकता है। पासवर्ड में स्पेशल कैरेक्टर के साथ-साथ केस सेन्सेटिव लेटर्स का इस्तेमाल करें यानी कैपिटल और स्मॉल दोनों का कम्बिनेशन अपने पासवर्ड में रखें।

इन 5 पासवर्ड का इस्तेमाल होता है सबसे ज्यादा

 

एक रिपोर्ट के मुताबिक 123456, 12345678, 12345, 12345 और qwerty पासवर्ड का इस्तेमाल सबसे ज्यादा होता है। इन पासवर्ड को क्रैक करने में 1 सेकेंड से भी कम समय लगता है। इस तरह से पासवर्ड को 10 करोड़ से ज्यादा लोग इस्तेमाल करते हैं। इसलिए इस तरह से पासवर्ड बनाने और इस्तेमाल करने से बचें।

1365 GB डेटा और फ्री कॉल्स के साथ BSNL ने पेश किये शानदार प्लान्स, आपको होगा फायदा ही फायदा

BSNL हमेशा अपने ग्राहकों को कम दाम में बेहतर सर्विस देने के लिए पॉपुलर है। BSNL की ओर से ग्राहकों के लिए समर ऑफर पेश किया है। कंपनी ने अपने 2 खास लंबी अवधि वाले प्लान्स के साथ एडिशनल वैलिडिटी की सुविधा दे रही है। जी हां हम बात कर रहे हैं BSNL के PV2999 और PV2399 प्लान्स के बारे में । इन दोनों प्लान में अब 90 और 60 दिनों की एडिशनल वैलिडिटी के फायदे डी ग्राहकों को मिल रहे हैं। BSNL के PV2999 प्लान के साथ कुल 455 दिनों की वैलिडिटी मिल रही है और PV2399 प्लान पर कुल 425 दिनों की वैलिडिटी मिल रही है। ध्यान दीजिये यह ऑफर 29 जून, 2022 तक लागू रहेगा। खास बात यह है कि दोनों प्लान्स के साथ मिलने वाले फायदे भी पूरे एडिशनल वैलिडिटी पीरियड के लिए मौजूद रहेंगे।

BSNL का 2399 रुपये वाला प्रीपेड प्लान


BSNL के इस 2399 रुपये वाले प्रीपेड प्लान में ग्राहकों को डेली 2GB डेटा मिलेगा, साथ ही अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग की सुविधा के साथ हर रोज 100 SMS भी मिल रहे हैं। इतना ही नहीं ग्राहकों को टेल्को से कॉलर ट्यून सेवा और इरोस नाउ की मुफ्त सदस्यता भी मिल रही है। वैसे आम तौर पर यह प्लान 365 दिनों की वैलिडिटी के साथ आता है। लेकिन समर ऑफर के तहत यूजर्स को 60 दिनों की अतिरिक्त वैलिडिटी मिल रही है। यानी इसमें सीधा फायदा ग्राहकों को होगा। इस प्लान के साथ टेल्को की ओर से कुल 425 दिनों की सर्विस मिलेगी। इस प्लान में रोज का खर्च लगभग 5 रुपये होगा।

BSNL का 2999 रुपये वाला प्रीपेड प्लान


इस प्लान में भी ग्राहकों को एक्स्ट्रा वैलिडिटी दी जा रही है। इस प्लान में रोजाना 3GB डेटा मिल रहा है। इसके अलावा इसमें अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग के साथ रोजाना 100 SMS दिए जा रहे हैं। वैसे आम तौर पर यह प्लान 365 दिनों की वैलिडिटी के साथ आता है। लेकिन समर ऑफर के तहत यूजर्स को 90 दिनों की अतिरिक्त वैलिडिटी मिल रही है। इसके अलावा इस प्लान के साथ टेल्को की ओर से कुल 455 दिनों की सर्विस मिलेगी। कुल मिलाकार इस प्लान के साथ 1365GB डेटा दिया जा रहा है। इस प्लान में रोज का खर्च लगभग 6 रुपये होगा।

Airtel ने पेश किये दो नए पैसा वसूल प्लान, फ्री Calls, DTH के साथ Amazon Prime का मिलेगा मज़ा

Airtel Black के अपने दो नए प्लान्स आज लॉन्च किये हैं,ये प्लान 1,099 रुपये और 1,098 रुपये की कीमत में आये हैं। ये दोनों प्लान्स ऐसे ग्राहकों  के लिए उपयोगी साबित होंगे जोकि टीवी के लिए लैंडलाइन कनेक्शन, ब्रॉडबैंड कनेक्शन और DTH सर्विस के लिए अलग-अलग रिचार्ज करते हैं। खास बात यह है कि कंपनी इन सभी सुविधाओं के लिए एक ही बिल जारी करेगी, जिससे अब यूजर्स को अलग-अलग बिल पे करने से आजादी मिलेगी और साथ ही कुछ रुपये भी बच जाते हैं। आइये जानते हैं Airtel Black के इन दोनों प्लान्स के बारे में और बताते हैं इनके फीचर्स।  

 

 

Airtel Black Rs 1098 और Rs 1,098 Plan के फीचर्स


Airtel Black के 1098 रुपये वाले प्लान में 200Mbps ब्रॉडबैंड स्पीड के अलावा लैंडलाइन कनेक्शन पर अनलिमिटेड Voice कॉल की सुविहा मिलती है। इसमें एयरटेल डिजिटल टीवी कनेक्शन के लिए 350 रुपये के टीवी चैनल भी शामिल हैं। इसके अलावा Airtel Black 1,099 रुपये के प्लान में एक साल का Amazon Prime और Airtel Xstream सब्सक्रिप्शन भी शामिल है। इतना ही नहीं इस प्लान के लिए पोस्टपेड कनेक्शन की जरूरत नहीं पड़ती। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि नियम और शर्तों का स्पष्ट रूप से उल्लेख नहीं किया गया है, लेकिन ऐसा लगता है कि इस प्लान के साथ कोई पोस्टपेड कनेक्शन शामिल नहीं होगा।

Airtel Black के 1,098 रुपये वाले प्लान में ब्रॉडबैंड यूजर्स को अनलिमिटेड डेटा के साथ लैंडलाइन पर अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग की सुविधा मिलेगी। इसके असाथ ही 100mbps तक की स्पीड भी मिलती है। 1,099 रुपये का प्लान पोस्टपेड कनेक्शन के लिए 75GB डेटा और फ्री वॉयस कॉल की सुविधा दी जा रही है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि Airtel ने 1,349 रुपये के प्लान को बंद कर दिया है जिसमें तीन पोस्टपेड कनेक्शन के लिए 210 जीबी डेटा और अनलिमिटेड वॉयस कॉल की पेशकश की गई थी।

Elon Musk नहीं होंगे Twitter board में शामिल, CEO पराग अग्रवाल ने जारी किया बयान

Elon Musk: दुनिया के सबसे अमीर शख्स और टेस्ला (Tesla) के CEO Elon Musk ने अभी हाल ही में twitter में 9.2 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी। और बाद में यह खबर तेजी से सामने आई कि एलन मस्क twitter के बोर्ड में शामिल होने जा रहे हैं। twitter के सीईओ पराग अग्रवाल ने बकायदा ट्वीट करके एलन मस्क का स्वागत किया लेकिन अब खबर यह है कि एलन मस्क twitter के बोर्ड में शामिल नहीं हो रहे हैं और इस बात की जानकारी पराग अग्रवाल ने ही ट्वीट करके जानकारी दी है।

 

पराग अग्रवाल ने अपने ट्वीट में बताया कि मस्क ने twitter के बोर्ड में शामिल होने से इनकार कर दिया है। पराग ने यह भी बताया कि हम अपने शेयरधारकों के सुझाव को हमेशा वैल्यू देते हैं फिर वो हमारे बोर्ड में हों या नहीं। एलन हमारे सबसे बड़े शेयरधारक हैं और हम उनके सुझावों के लिए खुले रहेंगे। लेकिन एलन मस्क ने twitter के बोर्ड में शामिल होने से इनकार क्यों किया इस बारे में अभी कोई जानकारी प्राप्त नही हुई है।

ceo.jpg

 

अपने ट्वीट में पराग अग्रवाल ने यह भी कहा कि, 'बोर्ड में एलन मस्क की नियुक्ति आधिकारिक तौर पर 9 अप्रैल से होनी थी, लेकिन Elon Musk ने उसी दिन सुबह बताया कि वो अब बोर्ड में शामिल नहीं होंगे। पराग के मुताबिक एलन को कंपनी के एक सहायक के रूप में रखा गया था, जिससे वो कंपनी के सर्वोत्तम हित में आपना कार्य कर सकें।

 

Twitter पर 9.2 प्रतिशत की हिस्सेदारी खरीदारी

 

Elon Musk ने अभी हाल ही में Twitter में 9.2 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदी है जो कि ट्विटर के तमाम शेयरधारकों में सबसे ज्यादा है। Elon Musk ने करीब 2.9 अरब डॉलर का निवेश किया है। मस्क ने twitter के लगभग 7.35 करोड़ शेयर खरीदे हैं। अगर वो किसी शेयर के बारे में बोल भी देते हैं तो वह शेयर दौड़ पड़ता है। एलोन मस्क खुद ट्वीटर के यूजर हैं जिसमें वह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और उसकी नीतियों की आलोचना समय-समय पर करते रहते हैं। Musk ने एडिट बटन को लेकर एक पोल वाला ट्वीट किया था। एलन मस्क ने पूछा था कि क्या आप एडिट बटन चाहते हैं, पराग अग्रवाल ने उस ट्वीट का रिप्लाई कर करते हुए कहा कि यह वोट बहुत जरूरी है। कृपया सावधानीपूर्वक वोट करें।

सैमसंग A सीरीज 5 मोबाइल हुए लांच, जानिए कौन से मोबाइल का क्या है प्राइज और स्पेसिफिकेशन

अगर आप नया मोबाइल खरीदने की सोच रहे हैं जो अभी हाल ही में लांच हुआ हो तो आपके लिए अच्छी खबर है। सैमसंग ने A सीरीज के पांच मोबाइल लांच किए हैं। इन पांचो मोबाइल के नाम सैमसंग गैलेक्सी A 13 5G, सैमसंग गैलेक्सी A 23 5G, सैमसंग गैलेक्सी A 33 5G, सैमसंग गैलेक्सी A 53 5G और सैमसंग गैलेक्सी A73 5G हैं। इन पांचो मोबाइल में चार कलर ऑप्सन दिए गए हैं। ये कलर ऑप्सन व्हाइट, ब्लू, पीच और ब्लैक हैं। आइए इन पांचो मोबाइल के बारे में जानते हैं।

सैमसंग गैलेक्सी A 13 : सैमसंग का यह मोबाइल में एक्सिनोस (Exynos) का 850 प्रोसेस यूज किया गया है। इसमें 8 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा और पीछे साइड 50 मेगापिक्सल का क्वाड कैमरा दिया गया है। 4 GB रैम और 64 GB स्टोरेज वाला वेरियंट 14,999 में है वहीं 4 GB रैम और 128 GB स्टोरेज वाला मोबाइल 15,999 रूपए की कीमत कंपनी ने तय की है।

सैमसंग गैलेक्सी A 23 : सैमसंग अपने A 23 मोबाइल में क्वालकोम स्नेपड्रैगन (Qualcomm Snapdragon) का 680 4G प्रोसेसर का यूज किया है। इसमें भी पीछे साइड क्वाड कैमरा सैटअप दिया है जिसमें प्रायमरी कैमरा 50 मेगापिक्सल का दिया गया है।

सैमसंग गैलेक्सी A 33 5G : सैमसंग ने इस मोबाइल में 5 नैनोमीटर में बना एक्सिनोस (Exynos) 1280 प्रोसेसर का यूज किया है। वहीं इसमें 6.4 इंच का डिस्प्ले दिया है जिसमें 90 Hz का रिफ्रेश रेट दिया गया है। 6 GB रैम और 128 GB स्टोरेज वाला मोबाइल 19,499 व 8 GB रैम और 128 GB स्टोरेज वाला मोबाइल 20,999 में खरीदा जा सकता है।

सैमसंग गैलेक्सी A 53 5G : इस मोबाइल में भी सैमसंग ने एक्सिनोस (Exynos) 1280 प्रोसेसर लगाया है जो 5 नैनोमीटर टेक्नोलॉजी पर बनाया गया है। इसमें 6.5 इंच का सुपर एमोलेड डिस्प्ले दिया है जो 120Hz के रिफ्रेश रेट के साथ आता है। 6 GB रैम और 128 GB स्टोरेज वाला A 53 मोबाइल 34,499 व 8 GB रैम और 128 GB स्टोरेज वाला मोबाइल 35,999 में खरीद सकते हैं।

सैमसंग गैलेक्सी A73 5G : सैमसंग गैलेक्सी A73 में क्वालकोम स्नेपड्रैगन (Qualcomm Snapdragon) का 778 5G प्रोसेसर लगा हुआ है। इसमें 1 टीबी तक का माइक्रोएसडी कार्ड लगाया जा सकता है। वहीं इसमें डिस्प्ले की बात करे तो 6.7 इंच का सुपर एमोलेड प्लस डिस्प्ले दिया गया है। जो 120Hz के रिफ्रेश रेट के साथ आता है।

 

Jio धमाका: 30 दिन की वैलिडिटी के साथ जियो का सस्ता प्लान हुआ लॉन्च, मिलेंगे कई सारे फायदे

देश की सबसे बड़ी दूरसंचार ऑपरेटर कंपनी Jio ने अपना नया और जबरदस्त प्लान लॉन्च किया है। यह कंपनी का calendar month validity (कैलेंडर मंथ वैलिडिटी) प्लान है, और इस पप्लान की कीमत 259 रुपये का है। इस प्लान की सबसे खास बात यह है कि यह 30 दिन की वैलिडिटी के साथ आता है जबकि इससे हम सबने प्लान्स की वैलिडिटी 28 दिनों की देखी थी। यानि अब आप पूरे महीने इस प्लान को एन्जॉय कर सकते हैं। Jio के मुताबिक ऐसा करने वाली वह देश की पहली टेलीकॉम कंपनी है। इतना ही नहीं हाई स्पीड डेटा के साथ अनलिमिटेड कॉलिंग जैसी सुविधाओं का फायदा भी इस प्लान में मिलता है।

Jio 259 Rupees prepaid plan
रिलायंस जियो (Jio) का यह प्लान 30 दिनों की वैलिडिटी के साथ आता है। इसमें यूजर्स को रोजाना 1.5GB डाटा मिलेगा। इस तरह कुल हाई स्पीड डेटा 45GB बनता है। इसके अलावा हर रोज 100 SMS भी मिलेंगे। इसके अलावा सभी नेटवर्क पर अनलिमिटेड कॉलिंग मिलेगी। इसके अलावा, जियो ऐप्स का मुफ्त सब्सक्रिप्शन भी दिया जाता है। इस प्लान को आप एक ही साथ कई बार के लिए रिचार्ज करा सकते हैं। हर महीने वैधता खत्म होने के बाद नया प्लान अपने आप एक्टिव हो जाएगा।

555 रुपये का प्लान भी हुआ लॉन्च

Jio ने 259 रुपये के प्रीपेड प्लान के साथ ही मार्केट में 555 रुपये का प्रीपेड प्लान भी लॉन्च किया है। इस प्लान में की वैलिडिटी 55 दिनों की है और इसमें 55GB डेटा मिलता है। लेकिन यद् रहे यह सिर्फ डेटा वाला प्लान है और इसमें वॉयस कॉलिंग और एसएमएस का लाभ नहीं मिलेगा। प्लान के साथ Disney+ Hotstar Mobile का ओवर-द-टॉप (OTT) सब्सक्रिप्शन भी शामिल है।

 

इस खास बैक पैनल के साथ Realme GT 2 Pro स्मार्टफोन 7 अप्रैल को होगा लॉन्च

अगर आप Realme का नया प्रीमियम स्मार्टफोन खरीदने का मन बना रहे हैं तो कंपनी अपना नया फ्लैगशिप स्मार्टफोन Realme GT 2 Pro को भारत में लॉन्च करने के लिए तैयार है। कंपनी इस स्मार्टफोन को 7 अप्रैल को भारत में लॉन्च करेगी। खास बात यह है कि ये दुनिया का पहला स्मार्टफोन है जिसका रियर पैनल बायोपॉलिमर से बना है, जिससे इसे बनाने में कार्बन उत्सर्जन में 35.5 फीसदी की कमी आई है। जानकरी के लिए आपको बता दें कि Realme ने टॉप डिजाइनर्स शांतनु और निखिल के कोलेब्रेशन में इसके डिजाइन सस्टेनेबिलिटी को शोकेस किया।

कंपनी ने ट्वीट के जरिए नए GT 2 Pro की लॉन्च डेट का ऐलान किया है। टीजर पोस्ट के मुताबिक इस फ्लैगशिप एंड्रॉयड स्मार्टफोन को 7 अप्रैल को दोपहर 12.30 बजे भारत में पेश किया जाएगा। परफॉरमेंस के लिए नए Realme GT 2 Pro में स्नैपड्रैगन 8 Gen 1 SoC प्रोसेसर मिलेगा। वैसे आजकल इसी प्रोसेसर का इस्तेमाल दूसरी कपनियां भी अपने प्रीमियम स्मार्टफोन में करती हैं। Realme GT 2 Pro में पावर के लिए इस फोन में 65W SuperDart Charge के साथ 5,000mAh बैटरी मिलती है।

Realme GT 2 Pro में 3216x1440 पिक्सल रेजोल्यूशन के साथ 6.7 इंच का OLED डिस्प्ले मिलेगा है। डिस्प्ले LTPO पैनल का उपयोग करता है और 120Hz तक की रिफ्रेश रेट के साथ आता है। इसके अलावा डिस्प्ले पर गोरिल्ला ग्लास विक्टस द्वारा प्रोटेक्टेड है।

फोटो और वीडियो के लिए इस फोन में पीछे की तरफ ट्रिपल कैमरा सेट-अप मिलेगा है, जिसमें 50MP प्राइमरी, 50MP अल्ट्रावाइड और 3MP माइक्रोस्कोप सेंसर हैं। इसके अलावा इसके फ्रंट में 32 MP का कैमरा मिलेगा। अब देखना होगा कंपनी इस फोन को भारत में किस कीमत में लेकर आती है, और क्या यह प्रीमियम स्मार्टफोन सेगमेंट में अपनी जगह बना पायेगा।

किसी भी इलाके में मिलेगा सुपरफास्ट इंटरनेट, Vodafone Idea ने पेश किया खास 4G राउटर

अगर आप वोडाफोन-आइडिया (Vi) यूजर्स हैं और चाहते हैं कि आपको इन्टरनेट की फ़ास्ट स्पीड मिले तो कंपनी ने अपने पोस्टपेड यूजर्स के लिए Vi MiFi पोर्टेबल 4G राउटर को लॉन्च कर दिया है। कंपनी के मुताबिक इस पोर्टेबल राउटर से एक साथ 10 डिवाइसेस को कनेक्ट किया जा सकता है और वाई-फाई का इस्तेमाल किया जा सकता है। Vi MiFi को लेकर दावा है कि इसके जरिए 150Mbps तक की स्पीड मिलेगी। जानकारी के लिए बता दें कि इसी तरह के राउटर Jio और Airtel के पास भी मौजूद हैं।

कीमत और फीचर्स

बात कीमत की करें Vi MiFi की कीमत 2,000 रुपये है। इसे वोडाफोन के पोस्टपेड प्लान के साथ आप खरीद सकते हैं। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि इसे अभी देश के 60 शहरों में 399 रुपये वाले शुरुआती पोस्टपेड प्लान के साथ ही उपलब्ध कराया गया है। आप इस राउटर से लैपटॉप, स्मार्ट टीवी और IoT डिवाइस को आसानी से कनेक्ट कर सकेंगे।

2700mAh की बैटरी

जहां तक बात डिजाइन की करने तो Vi MiFi पोर्टेबल 4G राउटर का डिजाइन बेहद स्टाइलिश है और यह काफी कॉम्पैक्ट भी है। यह पॉकेट फ्रेंडली डिजाइन के साथ है और इसे इस्तेमाल करना आसान है। इसकी मैक्सिमम स्पीड 150Mbps है। इस डिवाइस में 2700mAh की बैटरी है जिसे लेकर 5 घंटों के बैकअप का दावा किया गया है। इसके अलावा इस पर कंपनी एक साल की वारंटी भी दे रही है।

Vi MiFi पोर्टेबल 4G राउटर में जिस स्पीड और फीचर्स का दावा किया गया है उसे देखते यही कहा जा सकता है कि जिन लोगों को ज्यादा स्पीड की जरूरत हैं यह डिवाइस ऐसे ही लोगों के कामों को आसान बनाने में मदद करता है । अब देखना होगा इसे ग्राहकों का कैसा रेस्पोंस मिलता है।

गन पॉइंट पर ही ब्लॉक करूंगा स्टारलिंक से रूस के न्‍यूज सोर्स - अरबपति एलन मस्‍क का बड़ा ऐलान

टेस्ला के सीईओ और स्‍टारलिंक इंटरनेट कंपनी के मालिक एलन मस्‍क ने रूस और यूक्रेन में जंग के बीच बड़ी घोषणा की है। उन्होंने ऐलान किया है कि वो उनकी कंपनी स्‍टारलिंक से रूसी मीडिया संगठनों को ब्लॉक नहीं करेंगे। उनका कहना है कि कुछ सरकारों के कहने पर रूसी मीडिया के सोर्स को ब्लॉक नहीं करेंगे क्योंकि वो अभिव्यक्ति की आजादी के समर्थक हैं और जबतक बंदूक की नोक पर नहीं कहा जाएगा वो ऐसा नहीं करेंगे।

मस्क ने क्या कहा?
स्पेसएक्स के प्रमुख एलोन मस्क ने शनिवार को कहा कि उनकी कंपनी स्टारलिंक को कुछ सरकारों (यूक्रेन को छोड़कर) ने रूसी समाचार स्रोतों को ब्लॉक करने के लिए कहा है परंतु वो ऐसा नहीं करेंगे, उन्होंने ट्वीट कर कहा, "हम ऐसा तब तक नहीं करेंगे जब तक 'बंदूक की नोक' पर न कहा जाएग। अभिव्यक्ति की आजादी के समर्थक होने के लिए माफ करिएगा।

इसके अलावा मस्क ने शनिवार को ट्वीट किया, "स्पेसएक्स ने साइबर रक्षा और सिग्नल जामिंग पर काबू पाने को प्राथमिकता दी है। Starship और Starlink V2 में थोड़ी देरी होगी।"

मस्क ने यूक्रेन को चेताया

इस बीच टेस्ला के संस्थापक ने दुनिया भर में तेल और गैस उत्पादन में तत्काल वृद्धि का आह्वान भी किया। उनका ,मानना है कि स्थायी समाधान रूसी उत्पादन की जगह नहीं ले सकते। मस्क ने ट्विटर पर लिखा, "ये कहना उचित नहीं लग रहा, लेकिन हमें तुरंत तेल और गैस उत्पादन को बढ़ाने की आवश्यकता है।"

यह भी पढ़े - रूस में अब नहीं होंगी अमेरिकी कंपनियां, यूक्रेन में जंग के कारण कर रही व्यापारिक रिश्ते खत्म

Budget 2022: इसी साल शुरू होगी 5G सर्विस, बंपर नौकरियों के साथ ग्रामीण इलाकों में सुधरेगी इंटरनेट सेवा

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने बजट 2022 (Budget 2022) में इस साल 5G मोबाइल सर्विस को शुरू करने के लिए जरूरी स्पेक्ट्रम की नीलामी आयोजित करने की घोषणा की है। यूजर्स को इस साल के अंत या फिर अगले साल की शुरुआत में 5जी नेटवर्क पर मिलेगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देश की दिग्गज टेलीकॉम कंपनियों को 5जी के ट्राइल की अनुमति मिल गई है। 5जी ट्राइल सबसे पहले देश के 13 बड़े शहरों में होगा, जिनमें दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई जैसे शहर शामिल हैं।

ये भी पढ़ें : Budget 2022: यूनियन बजट में E-Passport को लेकर बड़ा ऐलान, जानिए कब शुरू होगी ये नई सेवा और क्या है इसमें खास

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि ग्रामीण इलाकों में सस्ते ब्रॉडबैंड और मोबाइल सर्विस को उपलब्ध कराने के लिए कार्य किया जाएंगे। इसके साथ ही सालाना 5 प्रतिशत USO (Universal obligation services fund) फंड दिया जाएगा। साथ ही इससे रोजगार भी बढ़ेगा। इसके अलावा जल्द ही 5G मॉडल बेस्ड प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम (PLI) का ऐलान किया जाएगा।

इन शहरों में चल रही है 5जी की टेस्टिंग:

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, देश के मुंबई, पुणे, गुजरात, दिल्ली और गुरुग्राम जैसे बड़े शहरों में 5जी की टेस्टिंग चल रही है। सबसे पहले जियो जल्द ही देश के 1000 बड़े और छोटे शहरों में 5जी नेटवर्क रिलीज करने की योजना बनी रही है। इसके अलावा जिस क्षेत्र में ज्यादा डेटा की खपत है, उसकी पहचान की जा रही है। इसके लिए कंपनी 3 डी मैप्स और रे ट्रेसिंग तकनीक का इस्तेमाल कर रही है।

ये भी पढ़ें : 19 साल के इस लड़के से Elon Musk हुए तंग, Twitter अकाउंट डिलीट करने के लिए 5,000 डॉलर का दिया ऑफर

बता दें कि साल 2021 में वोडाफोन आइडिया ने 5जी नेटवर्क पर 4.2Gbps की स्पीड प्राप्त की थी। यह 5जी ट्राइल पुणे में किया गया और यह स्पीड 26 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम बैंड पर मिली थी।

22 साल के युवक ने सेल्फ़ी बेचकर की करोड़ों की कमाई!

सेल्फ़ी बेचकर एक युवक करोड़पती बन गया। इस युवक ने सेल्‍फी बेचकर 7 करोड़ रुपए से ज्‍यादा कमाएं हैं। इंडोनिशया के रहने वाले इस लड़के की सफलता की कहानी 'डेली स्‍टार' ने प्रकाशित की है। अब ये युवक करोड़पती बना कैसे और उसने ऐसा क्या किया ? इसे समझेंगे इस रिपोर्ट में।

कौन है ये युवक?

इस 22 साल युवक का नाम सुल्‍तान गुस्‍ताफ अल गोजाली है जो कंप्‍यूटर साइंस का छात्र भी है। सुल्‍तान गुस्‍ताफ अल गोजाली जब 18 साल का था तब उसने1000 सेल्‍फी लीं थीं। इसके बाद 'गोजाली एव्रीडे' के नाम से इस युवक ने सेल्‍फी का एक वीडियो प्रोजेक्‍ट बना दिया। इस प्रोजेक्ट को बनाते समय सुल्तान को लगा था कि ये लोगों को मजाकिया लगेगा। इसके बाद NFT ने ये फ़ोटोज़ और वीडियो दोनों खरीद लीं।

यह भी पढ़े - दर्दनाक हादसा: पटरी पर खड़े होकर ले रहे सेल्फी, दो सगे भाइयों की मौत


selfie_2.jpg

सेल्‍फीं क्रिप्‍टोकरेंसी के लिए बेची थीं

सुल्तान ने अपनी सेल्‍फीं क्रिप्‍टोकरेंसी के लिए NFT की नीलामी साइट OpenSea पर बेच दी थीं। सुल्‍तान गुस्‍ताफ अल गोजाली ने अपनी सेल्फ़ी को लेकर कहा कि, 'मैंने कभी ऐसा सोचा नहीं था कि मेरी सेल्फ़ी भी कोई खरीदेगा। तब मैंने इसकी कीमत केवल 3 डॉलर रखी थी। जब एक सेलिब्रिटी शेफ ने इन फ़ोटोज़ को खरीदा और इसका प्रमोशन किया तो 400 से अधिक लोगों ने मेरी सेल्फ़ी खरीद लीं। अब तक इनसे मैं करोड़ों कमा चुका हूँ।' सुल्तान नाम के इस युवक ने इस मामले की जानकारी अभी तक अपने परिजनों को नहीं दी है।

अब ये NFT क्या है?

NFT यानी नॉन-फंजिबल टोकन एक तरह की डिजिटल संपत्ति या डेटा होता है। ये ब्‍लॉकचेन टेक्‍नोलॉजी पर रिकार्ड होता है। इसे क्रिप्टोग्राफिक टोकन भी कहा जाता है। किसी भी व्यक्ति के पास NFT का होने का अर्थ है कि उसके पास कोई यूनीक या सबसे अलग डिजिटल आर्ट है जो दुनिया में किसी के पास नहीं है।

यह भी पढ़े - Selfie Point in Kota : हमारे कोटा में भी विकसित होने चाहिए ब्रांडनेम के सेल्फी पाइंट

Omicron से संक्रमित रोगी की अब घर पर ही हो सकती है देखभाल, Deloitte ने अपनी प्लेबुक में बताए तरीके


भारत में ओमीक्रॉन के बढ़ते मामलों से निपटने में मदद करने के लिए डेलॉइट एक प्लेबुक उपलब्ध करा रही है। इस प्लेबुक में लिखे प्रोटोकॉल सरकारों को कोविड-19 (SARS-CoV-2) मामलों में वृद्धि को संबोधित करने के लिए आवश्यक स्वास्थ्य देखभाल सहायता और संसाधनों को शीघ्रता से बढ़ाने में सक्षम कर सकते हैं। डेलॉयट ने गुरुवार को कहा कि वह देश भर के जिला प्रशासनों को कोरोनावायरस के ओमाइक्रोन वर्जन के बढ़ते खतरे से निपटने में मदद करने के लिए यह प्लेबुक उपलब्ध करा रही है।

यह प्लेबुक संक्रमित रोगी को घर पर देखभाल करने की सलाह देती है, जिसे समुदाय आसानी से उन लोगों की सहायता के लिए अपना सकते हैं जो घर पर ठीक होने में सक्षम हैं। बता दें, कि यह प्लेबुक मई 2021 में करनाल, हरियाणा, भारत में शुरू की गई एक वर्चुअल होम केयर पहल, नीति आयोग, "संजीवनी परियोजना" से प्राप्त सीखों के साथ-साथ महामारी से निजात पाने के लिए दक्षिण अफ्रीका में डेलॉइट के अनुभव पर आधारित है।

वर्तमान में दूसरी लहर के चरम पर है, और इस दौरान हरियाणा सरकार और डेलॉइट की पहल ने करनाल के लोगों को घर पर स्वास्थ्य सेवा तक जल्दी पहुंचने में मदद की है। जिससे मृत्यु दर में 50 प्रतिशत की कमी आई। इसके साथ ही 90 प्रतिशत से अधिक रोगियों का इलाज घर पर या आइसोलेशन केंद्र पर किया गया। भारत में इसकी सफलता के बाद, इस "संजीवनी परियोजना" पहल को दक्षिण अफ्रीका और दक्षिण पूर्व एशिया में भी अपनाया गया।

डेलॉइट के वैश्विक सीईओ पुनीत रेनजेन ने कहा, "डेलॉयट प्लेबुक घर पर लोगों के लिए जरूरी स्वास्थ्य सेवा लाने में मदद करती है, जिससे 'मेडिकल वार्ड का विस्तार होता है।' यह पूरी तरह से लागू होने पर ग्रामीण, वंचित समुदायों तक पहुंचने के लिए बहुत आवश्यक चिकित्सा देखभाल और संसाधन लाता है।" उन्होंने आगे कहा, कि मुझे विश्वास है कि मॉडल को व्यापक रूप से अपनाने से कम लागत पर दीर्घकालिक स्वास्थ्य संबंधी चुनौतियों का समाधान होगा और यह भारत और दुनिया के लिए पूर्णरूप से सत्य है।"

अब मंगल ग्रह पर बिना जाएं कर सकते हैं अनुभव, हुंडई ने रोबोट के जरिए पेश की नई तकनीक

 


दक्षिण कोेरिया की वाहन निर्माता कंपनी हुंडई भी मेटावर्स में प्रवेश करना चाहती है, लेकिन इस वर्चुअल स्पेस के लिए इसके विजन अधिक महत्वाकांक्षी हैं। बता दें, CES 2022 में, Hyundai ने मनुष्यों को "समय और स्थान में गति की भौतिक सीमाओं को दूर करने" में मदद करने के लिए बोस्टन डायनेमिक्स रोबोट के कॉन्सेप्ट को पेश किया था। कंपनी के इस कॉन्सेप्ट के पीछे की विचारधारा पर बात करें तो हुंडई खुद का एक डिजिटल ट्विन बनाना चाहती है, जो आपके काम करेगा या आपकी ओर से चीजों का अनुभव करेगा।


हुंडई ने मेटावर्स में अपने डिजिटल ट्विन तक पहुंचने और घर पर अपने पालतू जानवरों को खिलाने या गले लगाने का यह उदाहरण दिया। यानी भले ही आप घर से दूर हों यह रोबोट आपके सारे काम करने में सक्षम होगा। वही इसे कारखानों में वास्तविक दुनिया में चीजों पर काम करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

 

हुंडई द्वारा दिया गया भविष्य का उदाहरण लोगों को यह अनुभव कराने की योजना थी, कि वास्तव में आप मंगल ग्रह पर जाए बिना कैसे इसे अनुभव कर सकते हैं। हुंडई द्वारा दिखाए गए एक वीडियो में, एक पिता और बेटी को बोस्टन डायनेमिक्स स्पॉट रोबोट के माध्यम से लाल ग्रह का अनुभव करते हुए देखा जाता है, जो शारीरिक रूप से वहां मौजूद है। ध्यान दें, कि मंगल ग्रह पर कौन है, जो मेटावर्स में अनुभव करने के लिए आपके डिजिटल अवतारों के लिए रीयल-टाइम डेटा और इमेजरी एकत्र करने वाले ग्रह को स्कैन करेगा।


हुंडई भी इस तकनीक की कल्पना करती है ताकि आपको यह अनुभव हो सके कि रीयल-टाइम विंड डेटा संग्रह और यहां तक कि चट्टानों और अन्य वस्तुओं को छूने के साथ एक रेतीला तूफान कैसा महसूस होता है। फिलहाल कंपनी ने यह सिर्फ कॉन्सेप्ट पेश किया है, और हम नहीं जानते कि ऐसा मेटावर्स अनुभव वास्तव में कब संभव होगा। लेकिन यह हमें भविष्य की एक झलक जरूर देता है, जो रोमांचक तो लगता है लेकिन साथ ही डरावना भी लगता है।

Elon Musk के एक ट्वीट का कमाल, क्रिप्टोकरेंसी सांता फ्लोकी की कीमत में आया 4000 फीसदी का उछाल

नई दिल्ली। क्रिप्टोकरेंसी ( Cryptocurrency )उद्योग को प्रभावित करने वाले टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ( Elon Musk ) के ट्वीट ने एक बार फिर कमाल कर दिया है। उनके एक ट्वीट की वजह से क्रिप्टोकरेंसी में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है। दरअसल स्पेसएक्स के संस्थापक एलन मस्क ने अपने डॉग की एक तस्वीर पोस्ट की, जिसके सांता फ्लोकी नाम की क्रिप्टोकरेंसी की कीमत में कई गुना उछाल देखने को मिला। बता दें कि फ्लोकी एलन मस्क के डॉग के नाम पर क्रिप्टोकरेंसी का नाम रखा गया है। जब एलन ने सांता की पोशाक में फ्लोकी की एक तस्वीर पोस्ट की, तो क्रिप्टोकरेंसी की कीमत 4,000 फीसदी से ज्यादा बढ़ गई।

एलन मस्क ने 25 दिसंबर को 'फ्लोकी सांता' कैप्शन के साथ तस्वीर पोस्ट की। हालांकि उनके ट्विट से ऐसा लग रहा जैसे उन्होंने सिर्फ डॉग के सांता ड्रेस को बताने की कोशिश की। लेकिन क्रिप्टोकरेंसी क्रिएटर्स ने मस्क के इस ट्विट को एक अवसर के तौर पर देखा और सिक्के के दाम बढ़ाने में कारगर माना।

यह भी पढ़ेँः Elon Musk पर भड़का चीन, जानिए क्यों UN से की स्पेसएक्स सैटेलाइट को लेकर शिकायत

बता दें कि सांता फ्लोकी (HOHOHO), एक BEP20 टोकन, जिसे Binance स्मार्ट चेन के अलावा लॉन्च किया गया था, 26 दिसंबर को अपने लाभ के एक महत्वपूर्ण हिस्से को कम करने से पहले 3,944 फीसदी करीब चार हजार प्रतिशत बढ़ा।


दरअसल सांता क्लॉज के परिधान में मस्क के डॉग की पोस्ट को 306,600 से अधिक लाइक्स मिले। सांता फ्लोकी का मूल्य सोमवार को $0.0000000129 से बढ़कर $0.000001718 हो गया। इस बीच, सांता फ्लोकी सिक्का के क्रिएटर्स का दावा है कि जो लोग अच्छा करना चाहते हैं उन्हें एक साथ आना चाहिए और आगे बढ़ने में योगदान देना चाहिए। हम सही तरीके से कमाए धन को बांटने में वाले सिद्धांतों में विश्वास करते हैं। इसके साथ ही बच्चों को बचाने जैसे संस्थाओं दान करने की योजना भी बना रहे हैं।


यह भी पढ़ेँः एलन मस्क : लोग नहीं जानते, मैं सबसे पहले एक इंजीनियर हूं

पहले भी कर चुके ट्वीट

यह पहली बार नहीं है जब मस्क के ट्वीट ने कमाल किया हो। इससे पहले भी अक्टूबर में मस्क ने चांद पर जाने वाले शीबा इनु मेम की एक तस्वीर ट्वीट की थी। उस समय, टोकन $0.000026 (0.0020 रुपए) पर कारोबार कर रहा था। CoinMarket कैप के मुताबिक, उनके ट्वीट ने टोकन को लगभग 50 फीसदी तक उछाल दिया और यह $0.000044 (0.0033 रुपए) के उच्च स्तर पर पहुंच गया।

एलन मस्क मेमे कॉइन के समर्थन है। हाल में मस्क ने Dogecoin का मेमे का समर्थन किया, जिसके बाद इस कॉइन की कीमत Ethereum क्रिप्टोकरेंसी से आगे निकल गई।

Disney+ Hotstar का जबरदस्त ऑफर, 50 रुपये से भी कम में देखें एक महीने तक मूवी और वेब सीरीज

मार्केट में अगर कॉम्पिटिशन हो तो ग्राहकों के लिए सस्ते दरों पर सुविधाएँ उपलब्ध होने लगती हैं। जैसे जियो के आने से टेलीकॉम कंपनियों को अपनी दरों में बड़े फेरबदल करने पड़े थे। कुछ ऐसा ही अब OTT प्लेटफॉर्मस के बीच देखने को मिल रहा है। यही कारण है कि Disney+ Hotstar अपने ग्राहकों के लिए नए ऑफर लेकर आया है। ऑफर ऐसा है कि लोग अब 50 से भी कम रुपये में मूवी और सीरीज एक महीने तक देख सकते हैं।

जब Amazon Prime ने अपने प्लान्स को महंगा किया तो Netflix ने इसे बड़ा अवसर देख अपने प्लान्स को सस्ता कर दिया। ऐसे में Disney+ Hotstar भला कैसे पीछे रहता। इस OTT प्लेटफॉर्म ने तो इन सबको पीछे छोड़ बाजी मारते हुए केवल 49 रुपये में मंथली रेन्टल प्लान की घोषणा कर दी है। इससे इसके यूजर्स एक महीने आराम से मूवी और वेब सीरीज देख सकते हैं।

हालांकि, Disney+ Hotstar का ये प्लान वास्तव में 99 रुपए वाला ही प्लान है जिसे ऑफर के तहत यूजर्स केवल 49 रुपये में सब्सक्राइब कर सकते हैं। ये नया मोबाइल प्लान सभी पेमेंट मेथड पर अप्लाइ नहीं होंगे।

यह भी पढ़ें: Whatsapp Messege Scheduler: इस आसान टिप्स से फटाफट शेड्यूल करें व्हाट्सएप मैसेज, नहीं छूटेगा कोई ख़ास मौका

दरअसल, Disney+ Hotstar के इस नए प्लान को लाने का उद्देश्य अपने एंड्रॉयड यूजर्स को टेस्ट करना है। ये नया प्लान कुछ चुनिंदा पेमेंट मेथड पर इंट्रोडक्टरी ऑफर के साथ उपलब्ध होगा और ये AD सपोर्टेड भी है। यही नहीं एक बार में केवल एक डिवाइस पर ही अकाउंट लॉगिन कर सकेंगे।

बता दें कि Disney+ Hotstar के अन्य प्लान 499, सुपर प्लान की कीमत 899 और प्रीमियम प्लान की कीमत 1499 प्रति वर्ष है। इन प्लान्स में एक समय में चार डिवाइस पर देखने की सुविधा मिलती है।

वहीं, Amazon Prime ने अपने प्राइम वीडियो के Subscription को 500 रुपये तक बढ़ा दिया है जबकि नेटफ्लिक्स ने सब्सक्रिप्शन चार्ज को कम किया है। नेटफ्लिक्स सब्सक्रिप्शन चार्ज जो पहले 199 रुपए का था वो अब 149 रुपये का हो गया है।

यह भी पढ़ें: सेमीकन्डक्टर निर्माण को सरकार की इस योजना से मिलेगा बूस्ट, होगी सेमीकंडक्टर की कमी दूर

Whatsapp Messege Scheduler: इस आसान टिप्स से फटाफट शेड्यूल करें व्हाट्सएप मैसेज, नहीं छूटेगा कोई ख़ास मौका

Whatsapp Tips and Tricks: व्हाट्सएप अपने यूजर्स के मैसेजिंग एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने के लिए हमेशा नए फीचर्स को रोल आउट करता रहता है। अक्सर हम महत्वपूर्ण डेट या मौको पर मैसेज भेजना भूल जाते है इसलिए व्हाट्सएप यूजर्स की हमेशा से एक चाहत रही है कि व्हाट्सएप पर एक ऐसा फीचर हो जिससे वो मैसेज को पहले से शेड्यूल कर सकें मगर ऐसा कोई फीचर फिलहाल व्हाट्सएप पर उपलब्ध नहीं है। मैसेज शेड्यूल फीचर उसे करने के लिए आपको थर्ड पार्टी ऐप डाउनलोड करने की जरुरत पड़ेगी जो व्हाट्सएप से जुड़ा हो। थर्ड पार्टी ऐप का इस्तेमाल करके आप बहुत आसानी से अपने मैसेज को शेड्यूल कर सकते है।

 

How to Schedule Whastapp Message on Android Phone

जैसा कि आपको पहले बताया है कि व्हाट्सएप पर मैसेज शेड्यूल का फीचर उपलब्ध नहीं है मगर थर्ड पार्टी एप्प , SKEDit WhatsApp Scheduling App, का इस्तेमाल करके आप अपने मैसेज को शेड्यूल कर सकते है। SKEDit WhatsApp Scheduling App के द्वारा आप ना केवल मैसेज को शेड्यूल कर सकते है बल्कि रिमाइंडर , ईमेल अलर्टस जैसे दूसरे फीचर्स को भी सेट कर सकते है। यह आपकी Productivity को बढ़ाने के साथ साथ समय को बचा कर आपके स्ट्रेस लेवल को भी कम करता है।

यह भी पढ़े : Hyundai ला रही है सस्ती इलेक्ट्रिक SUV, एडवांस फीचर्स के साथ देगी 350Km की रेंज

Schedule WhatsApp messages on iPhone

एंड्राइड फ़ोन में उपलब्ध SKEDit WhatsApp Scheduling App की तरह आईओएस यूजर्स के लिए ऐसा कोई थर्ड पार्टी ऐप नहीं है जो मैसेज को शेड्यूल कर सकते। मगर इसका भी तरीका हम आपके लिए ले कर आये है। आईओएस या iPhone पर मैसेज शेड्यूल करने के लिए नीचे लिखे तरीको का इस्तेमाल कर सकते है।

1. सिरी शॉर्टकट ऐप है इसका समाधान! आपको सबसे पहले अपने iPhone पर डाउनलोड करके ओपन करना है।
2. प्लस (+) सिंबल को टैप करके पर्सनल ऑटोमेशन बनाएं।
3. शेड्यूल करने के लिए दिन के समय और डेट का चयन करें जब आप अपना ऑटोमेशन चलाना चाहते हैं।
4. फिर, ऐड एक्शन पर टैप करें और सर्च बार में क्रियाओं की सूची से टेक्स्ट टाइप करें।
5. उसके बाद, अपना मैसेज टाइप करें जिसे आप शेड्यूल करना चाहते हैं और टेक्स्ट फ़ील्ड के नीचे + आइकन पर टैप करें और व्हाट्सएप को सेलेक्ट करें।
6. जिन्हे मैसेज भेजना है , उन्हें चुनें और नेक्स्ट पर टैप करें और अंत में Done को हिट करें।
7. आपका मैसेज शेड्यूल हो गया है।

यह भी पढ़े : अब Aadhaar Number से भी भेज सकेंगे पैसे, जानिए कैसे होगा पूरा काम

सेमीकन्डक्टर निर्माण को सरकार की इस योजना से मिलेगा बूस्ट, होगी सेमीकंडक्टर की कमी दूर

सेमीकंडक्टर या चिप भले ही सुनने में मामूली लगते हैं, पर ये बड़े महत्वपूर्ण हैं। स्मार्टफोन हो या कंप्युटर या ऑटोमोबाइल डिवाइस हो या मेडिकल डिवाइस लगभग हर इलेक्ट्रॉनिक सामान में इसका इस्तेमाल किया जाता है। सेमीकंडक्टर की कमी के कारण पूरी दुनिया में कोहराम मचा है और भारत भी इससे अछूता नहीं है। अब इसकी कमी को पूरा करने के लिए सरकार देश में ही सेमीकंडक्टर के निर्माण को बढ़ावा देने पर जोर दे रही है। इसके लिए सरकार इंसेंटिव योजना पर काम कर रही है।

सेमीकंडक्टर निर्माण पर जोर

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने राज्यसभा में सेमीकंडक्टर निर्माण को लेकर जानकारी दी। भाजपा सदस्य के जे अल्फोंस ने सेमीकंडक्टर को लेकर सवाल किया था। इसके जवाब में केन्द्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, 'सेमीकंडक्टर उद्योग बहुत ही जटिल है। इस उद्योग के लिए अत्यधिक पूंजी की आवश्यकता है और हाँ, हमें निश्चित रूप से इस क्षेत्र में बहुत कुछ करने की आवश्यकता है। इसके लिए हम कई स्टैकहोल्डर्स से बातचीत कर रहे हैं और उम्मीद करते हैं कि नतीजे अच्छे होंगे।'

बता दें कि इस दौरान मोबाइल फोन और आईटी हार्डवेयर, इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट्स, इमर्जिंग टेक्नोलॉजीज और सेमीकंडक्टर्स जैसे चार प्रमुख मुद्दों पर चर्चा हुई। इस दौरान उन्होंने ये भी बताया कि इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में भारत की ग्रोथ रेट 23 फीसदी से अधिक है।

10 बिलियन डॉलर से अधिक का इंसेंटिव

सेमीकंडक्टर निर्माण को बढ़ावा देने के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने नाम न बताने की शर्त पर प्रोत्साहन पैकेज की जानकारी दी है। केंद्र सरकार देश में दुनियाभर के सेमीकंडक्टर निर्माताओं को लुभाने के लिए 10 बिलियन डॉलर से अधिक का इंसेंटिव अर्थात प्रोत्साहन पैकेज पर काम कर रही है। प्रोत्साहन पैकेज लाने की योजना के संकेत सरकार ने इसी वर्ष अक्टूबर माह में भी दिया था।

निवेशकों को आकर्षित करने की योजना

केंद्र सरकार आयात पर निर्भरता कम करने के लिए सेमीकंडक्टर फैब, डिस्प्ले फैब, डिजाइन और पैकेजिंग के घरेलू उत्पादन के लिए 6 वर्षों में 760 बिलियन रुपये का प्रोत्साहन देगी। सरकार के अनुमानों के अनुसार, प्रोत्साहन पैकेज की योजना से भारत को अगले 6 वर्षों में 1.7 ट्रिलियन रुपये के निवेश को आकर्षित करने में मदद मिलेगी। उम्मीद की जा रही है कि कैबिनेट जल्द ही इस प्रस्ताव को मंजूरी देगा। इस प्रोत्साहन पैकेज से देश में लघु उद्योग और स्टार्टअप के लिए वित्तीय सहायता मिल सकेगी। ये दुनियाभर के सेमीकंडक्टर निर्माताओं को भी आकर्षित करेगा।

मोदी सरकार का ये निर्णय अर्थव्यवस्था में विनिर्माण की हिस्सेदारी को बढ़ावा देने और महामारी में देश को हुए आर्थिक नुकसान से जल्द से जल्द उबरने की दिशा में ये प्रस्ताव महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

सेमीकंडक्टर का वैश्विक बाजार 1.5 ट्रिलियन डॉलर

बता दें कि सेमीकंडक्टर का वैश्विक बाजार 1.5 ट्रिलियन डॉलर है। सेमीकंडक्टर के वैश्विक उद्योग में संयुक्त राज्य अमेरिका, ताइवान, दक्षिण कोरिया, जापान और नीदरलैंड की कंपनियों का वर्चस्व है जबकि भारत का लक्ष्य इस बाजार का प्रमुख खिलाड़ी बनने का है। फिलहाल पूरी दुनिया में चिप संकट गहरा है और 2023 तक इस संकट के बने रहने की संभावनाएँ हैं। ऐसे में देश में सेमीकन्डक्टर निर्माण को बढ़ावा देने के लिए प्रस्तावित योजना में प्रोत्साहन के अलावा सेमीकंडक्टर फैब के निर्माण के लिए चुनी गई कंपनियों को 50% पूंजीगत व्यय सरकार द्वारा प्रदान की जा सकती है।

भारत ताइवान की डील

भारत पहले ही 5जी उपकरणों से लेकर इलेक्ट्रिक कारों तक हर चीज की आपूर्ति करने के लिए 7.5 अरब अमेरिकी डॉलर का चिप प्लांट शुरू करने के लिए ताइवान के साथ डील कर चुका है। इस प्लांट के निर्माण के लिए उचित लोकैशन की खोज भी शुरू हो चुकी है। सेमीकंडक्टर के बाजार में ताइवान कितना अहम है इससे ही आप समझ सकते हैं कि दुनिया के 80 फीसदी चिप दक्षिण कोरिया और ताइवान में बनते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी दौरे के दौरान Qualcomm के सीईओ क्रिस्टिआनो ई अमोन से मिले थे और भारत में व्यापक व्यवसायिक संभावनाओं से अवगत कराया था। इसके साथ ही टाटा समूह ने देश में सेमीकंडक्टर असेंबली और टेस्ट यूनिट स्थापित करने के लिए $300 मिलियन तक के निवेश करने की घोषणा की थी। अब टाटा समूह देश के तीन राज्यों (तमिलनाडु, कर्नाटक और तेलंगाना) में सेमीकंडक्टर प्लांट लगाने के चर्चा भी कर रहा है। देश में सेमीकंडक्टर निर्माण को बढ़ावा मिलने से आने वाले समय में देश में इसकी कमी दूर होगी। भारत तब निर्यात को भी बढ़ावा दे सकेगा।